सीतामढ़ी जिला

सीतामढ़ी जिला 26 डिग्री 16 मिनट और 26 डिग्री 53 मिनट उत्तरी अक्षांश तथा 85डिग्री 11 मिनट और 85 डिग्री 50 मिनट पूर्वी देशांतर के बीच स्थित है। पहले यह मुजफ्फरपुर जिले का एक सबडिवीजन था।सीतामढ़ी शहर लखनीदेई नदी के किनारे स्थित है । सीताजी का उत्पत्ति का स्थान यही समझा जाता है और सीता जी के नाम पर ही इसका नाम सीतामढ़ी होना बताया जाता है। कहते हैं कि एक बार अनावृष्टि के कारण जोरो का अकाल पड़ा तो यज्ञ अनुष्ठान करके राजर्षि जनक जी ने स्वयं हल जोतना शुरू किया था। इसी समय उन्हें एक घड़े के अंदर जमीन में गड़े हुए बालिका सीता मिली । कहा जाता है कि उन्होंने इस स्थान पर एक कुंड बनवाया जिसे लोग सीता कुंड के नाम से जानते हैं। लेकिन कुछ लोग यहां से 3 मील दक्षिण-पश्चिम में बरौना नामक गांव को ही सीता का जन्म स्थान मानते हैं । सीतामढ़ी में जानकी कुंड के पास एक मंदिर है वहां रामनवमी में बहुत बड़ा मेला लगता है कहते हैं कि इस मंदिर की राम लक्ष्मण और सीता की मूर्तियों को बीरबल दास नामक एक साधू ने जमीन से उखाड़ा था

Similar Articles

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertismentspot_img

Instagram

Most Popular

%d bloggers like this: